PM Kisan Samman Nidhi Yojana: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ऑनलाइन आवेदन

PM Kisan Samman Nidhi Yojana | पीएम किसान सम्मान निधि योजना क्या है | PM Kisan Yojana Kya hai | पीएम किसान सम्मान योजना आवेदन फॉर्म | PM Kisan Sambandhi Yojana 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana

भारत में अब भी काफी संख्या में लोग कृषि पर निर्भर करते हैं। किसान खेत में मेहनत से अनाज उगाता है, और फिर अपनी फसल को बाजार में बेचता है। किसानों को कई बार आर्थिक रूप से मदद की जरूरत होती है, क्योंकि कई बार फसल का नुकसान हो जाता है। ऐसे में भारत सरकार कई योजनाओं के माध्यम से किसानों की मदद करती है। खेती का सामान मिल सके, खेती करने में कोई दिक्कत न हो आदि। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana) को लाया गया है।

Table Of Contents

PM Kisan Samman Nidhi Yojana

भारत सरकार के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने 1 फरवरी 2019 को किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का शुभारंभ किया था। इस योजना के तहत प्रति वर्ष 6,000 रुपये की राशि को 2000 रुपये की तीन मासिक किस्तों में प्रत्येक चौथे माह किसानों के बैंक खातों में सीधे हस्तांतरित किया जाता है। प्रारंभ में इस योजना के तहत उन्ही किसानो को शामिल किया गया जिनके पास कृषि के लिए 2 हेक्टेयर तक की ज़मीन थी लेकिन बाद में 01 जून 2019 से इसके दायरे को बढ़ाते हुए देश के सभी खेतीहर किसान परिवारों को इस योजना में शामिल किया गया। हालाकि आर्थिक रुप से मज़बूत किसान जैसे चिकित्सकों, अभियंताओं, अधिवक्ताओं, सनदी लेखाकारों और प्रति माह कम से कम 10,000 रुपये के पेंशनभोगियों (एमटीएस/चतुर्थ श्रेणी/ समूह घ कर्मचारी को छोड़कर)] को इस योजना से बाहर रखा गया है।

आज हम इस लेख के माध्यम से आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी साझा करेगे। जैसे इस योजना को लागू करने का क्या उद्देश्य है, इस योजना के लाभ कौन-कौन से है, इस योजना के लिए क्या पात्रता होनी चाहिए और इस योजना का लाभ लेने के लिए कौन-कौन से दस्तावेज़ आवश्यक है आदि.  इन सभी जानकारी को हासिल करने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़े. 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना का उद्देश्य (PM Kisan Samman Nidhi Yojana Aim)

प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना भारत सरकार द्वारा एक केंद्रीय क्षेत्र योजना के रूप में कार्यान्वित की जाती है।  इस योजना का शुभारंभ देश भर के सभी खेतीहर किसानों को आय सहायता प्रदान करके उनकी आय बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया था, ताकि उनकी कृषि और संबद्ध गतिविधियों के साथ-साथ घरेलू व्यय की आवश्यकताओं को पूरा किया जा सके।

ये भी पढ़े –

पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ (PM Kisan Samman Nidhi Yojana Benefit)

इस योजना के अंतर्गत उन किसानो को वित्तीय सहायता दी जाती है जो आर्थिक रुप से कमजोर है. इसके तहत केंद्र सरकार हर साल पात्र किसान परिवारों को 6,000 रुपये की वित्तीय सहायती देती है। यह रकम सीधे किसानों के खाते में ट्रांसफर की जाती है। हालांकि, इसे एक ही बार में ट्रांसफर नहीं किया जाता है। सरकार इसे तीन बार में, यानी तीन किस्तों में ट्रांसफर करती है। हर किस्त में 2000 रुपये होते हैं। पीएम किसान योजना की किस्तों के लिए सरकार ने साल को चार-चार महीने की तीन अवधियों- अप्रैल से जुलाई, अगस्त से नवंबर और दिसंबर से मार्च में बांट रखा है। इन्हीं अवधियों के हिसाब से पैसा किसानों के खाते में ट्रांसफर किया जाता है.

केंद्र सरकार अब तक 1.60 लाख करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि जारी कर चुकी है। कृषि जनगणना 2015-16 के अनुमानों के आधार पर लगभग 14 करोड़ किसानो को इस योजना का लाभ दिया जायेगा और अब तक, राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश सरकारों द्वारा पीएम-किसान वेब पोर्टल पर अपलोड किए गए लाभार्थियों के आंकड़ों के आधार पर, 12 करोड़ से ज्यादा छोटे और मझोले किसानो को इस योजना का लाभ मिल चुका है.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक जारी की गई किस्तें

  • पीएम किसान योजना पहली किस्त   – फरवरी 2019 में जारी की गई थी।
  • पीएम किसान योजना दूसरी किस्त   – 2 अप्रैल 2019 को जारी की गई थी।
  • पीएम किसान योजना तीसरी किस्त  – अगस्त में जारी की गई थी।
  • पीएम किसान योजना चौथी किस्त   – जनवरी 2020 में जारी की गई।
  • पीएम किसान योजना 5वीं किस्त   – 1 अप्रैल, 2020 में जारी की गई।
  • पीएम किसान योजना छठी किस्त  – 1 अगस्त से पैसा आना शुरू।
  • पीएम किसान योजना की सातवीं किस्त  – 25 दिसंबर 2020 को जारी की गई।
  • पीएम किसान योजना की आठवीं किस्त  – 14 मई 2021 को जारी की गई।
  • पीएम किसान योजना की नौवीं किस्त   – 9 अगस्त 2021 को जारी की गई।
  • पीएम किसान योजना की 10वीं किस्त  – 1 जनवरी 2022 को जारी की गई।  

अगर लाभार्थी की मौत हो जाए तो किसे मिलता है पैसा?

अगर कोई जरूरतमंद और योग्य किसान इस योजना से जुड़ा हुआ है तो उसे सरकार की तरफ से हर साल 2000 रुपए तीन किस्तों में मिलते हैं. लेकिन अगर लाभार्थी की मृत्यु हो जाए तो कृषि योग्य भूमि का मालिकान हक रखने वाले उस किसान के वारिस को इस योजना का लाभ मिलता है.

हालांकि, किसान के उस वारिस को अलग से पोर्टल में खुद को रजिस्टर करना होगा. इसके अलावा ये भी देखा जाएगा कि क्या ये वारिस सरकार की शर्तों पर खरा उतर रहा है या नहीं. अगर किसान का वारिस इस योजना के तहत बनाए गए नियमों को पूरा करता है, तो उसे इस योजना का लाभ जरूर मिलेगा.

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana के लिए पात्रता 

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास कम से कम 1 या 2 हेक्टेयर कृषि योग्य ज़मीन होनी चाहिए.

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana के लिए कौन-कौन पात्र नहीं है

  • परिवार में सिर्फ एक व्यक्ति जैसे पति या पत्नी में से कोई एक ही पीएम किसान का लाभ ले सकता है.
  • जिन लोगों को आमदनी अधिक है, वे पीएम किसान स्कीम का फायदा नहीं ले सकते.
  • जिन लोगों के पास संस्थागत जमीनें हैं या कॉमर्शियल प्लॉट है, वे उस पर पीएम किसान का लाभ नहीं ले सकते.
  • पूर्व और वर्तमान मंत्री / राज्य मंत्री और लोकसभा / राज्य सभा / राज्य विधान सभाओं / राज्य विधान परिषदों के पूर्व / वर्तमान सदस्य, जिला पंचायतों के पूर्व और वर्तमान अध्यक्ष स्कीम के लिए पात्र नहीं हैं.
  • रिटायर्ड पेंशनर जिनकी मासिक पेंशन 10,000/- रुपये या उससे अधिक है (मल्टी-टास्किंग स्टाफ/ग्रुप IV/ग्रुप डी कर्मचारियों को छोड़कर) भी पात्र नहीं हैं.
  • किसान परिवार में अगर कोई टैक्स देता है तो इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा. यानी पति या पत्नी में से किसी ने भी  पिछले साल इनकम टैक्स भरा है तो उन्हें इस योजाना का लाभ नहीं मिलेगा.
  • अगर कोई किसान अपनी खेती की जमीन का इस्तेमाल कृषि कार्य में न कर दूसरे कामों में कर रहे हैं या दूसरों के खेतों पर किसानी का काम तो करते हैं, और खेत उनका नहीं हैं. ऐसे किसान भी इस योजना का लाभ उठाने के हकदार नहीं हैं. यदि कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेत उसके नाम नहीं होकर उसके पिता या दादा के नाम है तो उन्हें भी इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा.

PM Kisan Samman Nidhi Yojana के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

  • आपको अगर इस किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन करना है, तो इसके लिए आपको सबसे पहले जो दस्तावेज चाहिए वो है आधार कार्ड। इसकी जरूरत योजना में पंजीकरण कराने के लिए पड़ती है।
  • आपको एक मोबाइल नंबर की भी जरूरत होती है, जिस पर वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी आता है। इसके अलावा आपको एक पासपोर्ट साइज फोटो भी चाहिए होती है।
  • आपको खसरा और खतौनी के कागजात की भी जरूरत होती है। खसरा में जमीन की पूरी जानकारी होती है, जिसे पटवारी बनाता है। वहीं, खतौनी के सर्टिफेकट पर तहसीलदार के हस्ताक्षर होते हैं।
  • योजना में आवेदन करने के लिए बैंक खाते की जानकारी भी चाहिए होती है, जिसमें खाता संख्या और आईएफएससी कोड जैसी चीजें होती हैं। आपको मिलने वाली सहायता राशि इसी खाते में भेजी जाती है।
  • इसके अलावा आपके पास राशन कार्ड भी होना चाहिए. 

PM kisan samman nidhi yojana के मुख्य बिंदु 

योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
किसके द्वारा शुरू की गई  केंद्र सरकार के द्वारा  
किस मंत्रालय द्वारा संचालित की जा रही है  कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा
योजना का उद्देश्य  देश भर के सभी खेतीहर किसानों को आय सहायता प्रदान करके उनकी आय को बढ़ाना
योजना का लाभ इस योजना के तहत केंद्र सरकार हर साल पात्र किसान परिवारों को 6,000 रुपये की वित्तीय सहायती देगी जिसके ज़रिये से किसान कृषि और संबद्ध गतिविधियों के साथ-साथ अपने घरेलू व्यय की आवश्यकताओं को पूरा कर सकेंगे।
योजना के लिए पात्रता 

इस योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास कम से कम 1 या 2 हेक्टेयर कृषि योग्य ज़मीन होनी चाहिए.   

योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़
  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड 
  • बैंक खाते की पासबुक
  • खसरा और खतोनी के कागजात 
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
योजना के लिए आवेदन  जारी है 
आवेदन करने की अंतिम तिथी  अभी तक घोषित नहीं हुई है
ऑफिशियल वेबसाइट  pmkisan.gov.in

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन कैसे करे? 

देश के जो इच्छुक लाभार्थी किसान पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते है. 

ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया (pm kisan samman nidhi yojana online apply)

स्टेप 1 – 

सबसे पहले आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना की ऑफिशियल वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाना होगा. PM Kisan Samman Nidhi Yojana

वेबसाइट ओपन होने के बाद आपको स्क्रोल करके नीचे आना और दाई तरफ आपको Farmers Corner के नाम से एक केटेगरी दिखाई देगी. आपको यहाँ पर New Farmer Registration पर क्लिक करना होगा. 

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

 

  • अगर आप ग्रामीण इलाके से है तो Rural Farmer Registration चुने अगर आप शहर से ताल्लुक रखते है तो Urban Farmer Registration वाला ऑप्शन चुने.
  • आधार नंबर दर्ज करे.
  • मोबाइल नंबर दर्ज करे. 
  • अपना राज्य चुने.
  •  टेक्स्ट भरे
  • send otp बटन पर क्लिक करे.
  • मोबाइल नंबर पर ओटीपी आयेगा उसे दर्ज करे और submit बटन पर क्लिक करे. 

स्टेप 2 –पीएम किसान सम्मान निधि योजना

  • State वाले ऑप्शन में अपना राज्य चुने.
  • District वाले ऑप्शन में अपना जिला चुने.
  • Sub-District वाले ऑप्शन में अपनी तहसील चुने. 
  • Block वाले ऑप्शन में अपना ब्लॉक चुने. 
  • Village वाले ऑप्शन में अपने गाँव का नाम चुने. 
  • Farmer Name वाले ऑप्शन में अपना नाम दर्ज करे. 
  • Gender वाले ऑप्शन में अपने लिंग का प्रकार चुने की आप पुरुष हो या महिला.  
  • Category वाले ऑप्शन में अपनी जाति चुने. 
  • Farmer Type वाले ऑप्शन में आपको अपनी ज़मीन के बारे में बताना है की आपके पास खेती के लिए कितनी ज़मीन है.
  • Select ID type और Type of Identity Proof वाला ऑप्शन जैसा है वैसा ही रहने दे. 
  • IFSC Code वाले ऑप्शन में अपने बैंक का IFSC कोड दर्ज करे. 
  • Bank Name वाले ऑप्शन में बैंक का नाम दर्ज करे .
  • Account No. वाले ऑप्शन में खाता संख्या दर्ज करे .
  • Aadhar No. वाले ऑप्शन में अपनी आधार संख्या दर्ज करे. 
  • Mobile No. वाले ऑप्शन में मोबाइल नंबर दर्ज करे. 
  • Address वाले ऑप्शन में अपना पता दर्ज करे. 
  • Pincode वाले ऑप्शन में अपने एरिया का पिनकोड दर्ज करे. 
  • Father / Mother / Husband Name वाले ऑप्शन में या तो आप अपने पिता का नाम या अपनी माता का नाम दर्ज करे या अपने पति का नाम दर्ज करे.
  • Land Registration ID वाले ऑप्शन में आपको अपनी लैंड रजिस्ट्रेशन आई.डी भरनी है ये जो लैंड रजिस्ट्रेशन आई.डी है ये राज्य सरकार की तरफ से आप सभी को प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन के टाइम दी जाती है अगर आपको अपनी लैंड रजिस्ट्रेशन आई.डी नहीं पता है तो आप इसे अपने लेखपाल से कलेक्ट कर सकते है.
  • Ration Card No. वाले ऑप्शन में अपनी राशन कार्ड की संख्या दर्ज करे. 
  • Date of Birth वाले ऑप्शन में अपनी जन्मतिथी दर्ज करे. 
  • Are you…PM Kisan Mandhan Yojana वाले ऑप्शन में आपको yes या no चुनना है की आप  PM Kisan Mandhan Yojana से जुड़े है या नहीं. 
  • Submit for Aadhar Authentication पर क्लिक करे और आधार वेरिफिकेशन होने का वेट करे.
  • Ownership (Land Holding) वाले ऑप्शन में आप या Single पर क्लिक करे या Joint पर क्लिक करे. अगर ज़मीन केवल आपके नाम है तो फिर आपको Single वाला ऑप्शन चुनना है अगर ज़मीन के कई साझेदार है तो Joint ऑप्शन पर क्लिक करे. 
  • अब आपको दाई तरफ Add बटन पर क्लिक करना होगा. जैसे ही आप Add वाले बटन पर क्लिक करोगे तो आपके सामने लैंड डिटेल्स भरने का ऑप्शन आ जायेगा.
  • Survey / Khata No. वाले सेक्शन में, आपकी खतोनी पर जो खाता नंबर प्रिंट है उसे दर्ज करे.
  • Dag / Khasra No. वाले सेक्शन में आपको खसरा नंबर दर्ज करना है ये भी आपकी खतोनी पर दर्ज होता है. 
  • Area (In Ha) वाले ऑप्शन में आपको अपनी ज़मीन के बारे में बताना है की आपके पास कितनी ज़मीन है उदहारण के तौर पर 1 हेक्टेयर या 2 हेक्टेयर आदि. 
  • Land वाले ऑप्शन में आपको अपनी खतोनी के कागजात अपलोड करने है. 
  • Aadhar वाले ऑप्शन में आपको अपना आधार कार्ड अपलोड करना है. 
  • Bank Passbook वाले ऑप्शन में आपको बैंक की पासबुक अपलोड करनी है.
  • इसके बाद I certify that all the given details are correct के सामने टिक करना है. 
  • अब आपको Submit बटन पर क्लिक करना है. जिसके बाद आपको अपना रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जायेगा और आपका रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा हो जायेगा. 

नोट – आप अपने नजदीकी CSC सेंटर पर जाकर भी इस योजना के लिए आवेदन करा सकते है. 

ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया 

यदि आप किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन करना चाहते है तो आप अपने सम्बंधित तहसीलदार / ग्राम प्रधान / ग्राम पंचायत से संपर्क करे. 

PM Kisan Beneficiary Status Check 2022

PM Kisan Beneficiary Status

  • इसके बाद आपको Beneficiary Status पर क्लिक करना होगा. 
  • जिसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आयेगा. 

PM Kisan Beneficiary Status

  • अब आप या तो आधार नंबर दर्ज करे या अकाउंट नंबर दर्ज करे और Get Data के बटन पर क्लिक करे. 
  • अब आपके सामने आपकी स्क्रीन पर सम्बंधित जानकारी शो होगी. 
  • इस तरह आप PM Kisan Beneficiary Status चेक कर सकते है. 

PM Kisan Beneficiary List 2022

pm kisan beneficiary list

  • इसके बाद आपको Beneficiary List पर क्लिक करना होगा. 
  • जिसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आयेगा. 

PM Kisan Beneficiary List

  • सम्बंधित जानकारी दर्ज करे जैसे राज्य, जिला, उप-ज़िला, ब्लॉक, गाँव आदि.
  • जानकारी दर्ज करने के बाद Get Report पर क्लिक करे. जैसे ही आप क्लिक करोगे तो आपके सामने आपकी स्क्रीन पर PM Kisan Beneficiary List आ जाएगी.  
  • इस तरह आप PM Kisan Beneficiary List चेक कर सकते है. 

ये भी पढ़े –

PM Kisan Samman Nidhi Yojana Helpline Number / Toll Free Number

किसान पीएम किसान हेल्पलाइन से भी जानकारी ले सकते हैं और कोई समस्या हो ता शिकायत दर्ज करा सकते हैं। पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर 155261 है। इसके अलावा पीएम किसान टोल फ्री नंबर 18001155266 और पीएम किसान लैंडलाइन नंबर 011-23381092, 23382401 भी है। पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन 0120-6025109 और ई-मेल आईडी [email protected] है।

एक नजर पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जुड़े ताज़ा सुर्खियों पर भी 

PM Kisan eKYC: करोड़ों किसानों को खुशखबरी, बढ़ गई पीएम किसान ई-केवाईसी की लास्ट डेट

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत ई-केवाईसी प्रक्रिया पूरा करने के लिए पहले निर्धारित 31 मार्च 2022 की तारीख को आगे बढ़ा दिया गया है। योजना के पोर्टल के मुताबिक, अब योजना के तहत रजिस्टर्ड किसान आगामी 31 मई 2022 तक अपनी ई-केवाईसी प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं। 

पीएम मोदी इस दिन जारी करेंगे 11वीं किस्त, पर इन किसानों को नहीं मिलेंगे 2 हजार रुपये

पीएम किसान की 11वीं किस्त कब आएगी? इस सवाल का जवाब पिछले दिनों केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक कार्यक्रम के दौरान दिया था. उन्होंने बताया था कि पीएम मोदी 31 मई को 11वीं किस्त जारी करेंगे. यानी किसानों के खाते में 31 मई को 2 हजार रुपये ट्रांसफर होंगे.

लेकिन, किसानों के लिए यहां पर ध्यान देने वाली बात है. 11वीं किस्त सिर्फ उन्हीं किसानों को मिलेगी, जिन्होंने अपने पीएम किसान खाते की ईकेवाईसी करा दी है. अगर आप पीएम किसान के तहत रजिस्टर्ड किसान हैं और अब तक आपने अपने पीएम किसान खाते की ईकेवाईसी नहीं कराई है तो इसे फटाफट करा लें वरना आपको 11वीं किस्त से वंचित होना पड़ सकता है.

दरअसल, पीएम किसान योजना में कई तरह के घोटाले सामने आए हैं. अपात्र लोगों द्वारा भी इस योजना का लाभ उठाते हुए देखा गया. इन सब स्थितियों से बचने के लिए सरकार ने अब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लिए eKYC अनिवार्य कर दिया है. eKYC करवाने की डेडलाइन 31 मई 2022 कर दी गई है. ऐसे में अगर इस योजना की 11वीं किस्त से वंचित नहीं रहना चाहते हैं तो 31 मई से पहले अपना e-KYC पूरा करा लें.

ये भी पढ़े – 

 

पैसा बढ़ाने की मांग कर रहे विशेषज्ञ

यह योजना किसानों के बीच काफी लोकप्रिय है. क्योंकि इसमें एक भी पैसा भ्रष्टाचार का शिकार नहीं हो रहा. इसलिए कृषि विशेषज्ञों की राय है कि इसकी रकम में वृद्धि होगी तो किसानों की आर्थिक सेहत में सुधार आएगा. उनका मानना है कि किसानों को सीधे पैसा देना ज्यादा लाभकारी है. क्योंकि दूसरी योजनाओं के जरिए भेजा गया पैसा नेता और अधिकारी मिलकर साफ कर देते हैं. उसका लाभ किसानों तक नहीं पहुंचता है.

किन लोगों ने दिया इस योजना का पैसा बढ़ाने का सुझाव

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के ग्रुप चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर सौम्य कांति घोष ने पीएम किसान स्कीम का पैसा बढ़ाकर 8000 रुपये करने की सलाह दी. स्वामीनाथन फाउंडेशन ने इसे सालाना 15,000 रुपये सालाना कर देने का सुझाव दिया. कृषि विशेषज्ञ बिनोद आनंद ने 24 हजार रुपये करने एवं किसान शक्ति संघ के अध्यक्ष पुष्पेंद्र सिंह ने हर माह 2000 रुपये करने की मांग रखी थी.

Leave a Comment