Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana 2022: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना आवेदन फॉर्म

PMMVY Yojana | PMMVY Scheme | PMMVY Yojana in Hindi | pradhan mantri matritva vandana yojana | प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना आवेदन फॉर्म | Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Apply Online Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana 

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana 2022

भारत में अधिकांश महिलाओ को आर्थिक तंगी के कारण पोष्टिक आहार नहीं मिल पाता है जिसकी वजह से ऐसी गर्भवती महिला कम वज़न वाले और कमजोर शिशु को ही जन्म देती है. केंद्र सरकार ने ऐसी ही गर्भवती महिलाओ को ध्यान में रखते हुए 1 जनवरी 2017 को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (Pradhan Mantri Matritva Yojana) कि शुरुआत की. जिसके तहत केंद्र सरकार गर्भवती महिलाओ को 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी. इस योजना का लाभ आप कैसे ले सकती है इस बारे में जानने के लिए इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक और आखिर तक ज़रूर पढ़े.  

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का उद्देश्य 

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Aim

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana) के तहत मिलने वाली राशि का इस्तेमाल करके गर्भवती महिला अपने खान-पीन में पोषक तत्वों को शामिल करके अपनी सेहत का और बच्चे की सेहत का भरपूर ध्यान रख पाएगी. इस योजना का असल मकसद गर्भवती महिलाओ और उसके बच्चे को कुपोषित होने से बचाना है एवं मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाना है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना कौन-कौन से राज्यों में लागू है

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना भारत के हर एक राज्य में लागू है आप चाहे जिस भी स्टेट से हो आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है. 

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लाभ

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Benefits 

  • गर्भावस्था सहायता योजना (PMMVY) 2022 का लाभ उन गर्भवती महिलाओ को मिलेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर होने की वजह से गर्भावस्था के समय अपनी स्वास्थ्य सम्बन्धी ज़रूरतों को पूरा नहीं कर पाती है. इस योजना के ज़रिये गर्भवती महिलाये गर्भावस्था के समय की हर ज़रूरत को पूरा कर सकेंगी और बच्चे के जन्म होने के बाद बच्चे की अच्छे से परवरिश कर सकेंगी.
  • प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 के अंतर्गत मिलने वाली 6000 रूपये की धनराशी चार किश्तों में सीधे लाभार्थी  के बैंक खाते में पहुंचाई जाएगी.
  • ऐसी गर्भवती महिलाएं जो पहले से ही आर्थिक रुप से मज़बूत है वो इस योजना का लाभ नहीं ले सकती. 

ये भी पढ़े – 

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की पात्रता 

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Eligibility

इस योजना का लाभ लेने के लिए गर्भवती महिला की उम्र 19 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए.

गर्भपात्र / मृत जन्म का मामला 

यदि पहली क़िस्त प्राप्त करने के बाद गर्भवती महिला का गर्भपात हो जाता है तो वह दूसरी बार गर्भवती होने के बाद केवल दूसरी और तीसरी क़िस्त प्राप्त करने की पात्र होगी. 

इसी तरह यदि पहली और दूसरी किस प्राप्त करने के बाद गर्भवती महिला का गर्भपात हो जाता है या मृत शिशु का जन्म होता है तो वह दूसरी बार गर्भवती होने के बाद केवल तीसरी क़िस्त प्राप्त करने की पात्र होगी. 

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

Pradhan Mantri Matru Vandana Yojana Documents

  • राशन कार्ड
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता दोनों का आधार कार्ड
  • बैंक खाते की पासबुक
  • माता पिता दोनों का पहचान पत्र 
  • माता पिता दोनों का आधार कार्ड
  • लाभार्थी का आधार कार्ड बैंक खाते से लिंक होना जरूरी है।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana 2022 के मुख्य बिंदु 

योजना का नाम प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना
किसके द्वारा शुरू की गई  केंद्र सरकार के द्वारा 
योजना का उद्देश्य  गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और उनके बच्चे को होने वाले कुपोषण से बचाना और शिशु मृत्युदर को कम करना है।
योजना का लाभ इस योजना के ज़रिये गर्भवती महिलाये गर्भावस्था के समय की हर ज़रूरत को पूरा कर सकेंगी और बच्चे के जन्म होने के बाद बच्चे की अच्छे से परवरिश कर सकेंगी.
योजना के लिए पात्रता 
  • महिला 1 जनवरी 2017 या उसके बाद गर्भवती हुई हो.
  • गर्भवती महिला की उम्र 19 वर्ष से कम ना हो. 
योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़
  • राशन कार्ड
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता दोनों का आधार कार्ड
  • बैंक खाते की पासबुक
  • माता पिता दोनों का पहचान पत्र 
  • माता पिता दोनों का आधार कार्ड
योजना के लिए आवेदन  जारी है 
आवेदन करने की अंतिम तिथी  अभी तक घोषित नहीं हुई है
ऑफिशियल वेबसाइट  wcd.nic.in

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करे?

  • Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana का लाभ उठाने के लिए आप ऑफलाइन या ऑनलाइन आवेदन कर सकते है
  • गर्भवती महिलाओ को इस योजना में ऑफलाइन आवेदन के लिए तीन फॉर्म भरने होंगे. तीनो फॉर्म डाउनलोड करने के लिंक आपको नीचे मिल जाएगे. 
  • सर्वप्रथम गर्भवती महिलाए अपने निकटतम आंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर पंजीकरण के लिए पहला फॉर्म लेकर और उसमे पूछी गयी सभी जानकारी भरकर जमा कर दे. 
  • इसी तरह आपको अपने निकटतम आंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर नियमित समय पर जाकर दूसरा और तीसरा फॉर्म भरकर जमा करना है. 
  • तीनो फॉर्म भरने के बाद आंगनवाड़ी या निकटतम स्वास्थ्य केंद्र वाले आपको एक स्लिप देंगे. इस तरह आपका ऑफलाइन आवेदन पूरा हो जायेगा.
  • सभी जानकारी सही पाए जाने पर 30 दिन के भीतर आपके खाते में किश्त का भुगतान हो जायेगा.  

शर्ते और किश्ते 

रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार निम्नलिखित किश्तों में राशि का भुगतान करेगी।

पहली किस्त: गर्भधारण का शीघ्र पंजीकरण कराने पर 1000 रुपए की पहली किश्त दी जाएगी (इसके लिए आपको फॉर्म 1 भरना होगा). 

दूसरी किस्त: गर्भधारण के 6 माह बाद (कम से कम एक प्रसव पूर्व) जांच कराने पर 2000 रुपए की दूसरी किश्त दी जाएगी (इसके लिए आपको फॉर्म 2 भरना होगा). 

तीसरी किस्त:  बच्चे के जन्म का पंजीकरण कराने पर और बच्चे का BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले चक्र का टीकाकरण करवाने पर 2000 रुपए की तीसरी किश्त दी जाएगी (इसके लिए आपको फॉर्म 3 भरना होगा). 

चौथी  किस्त: चौथी क़िस्त यानी 1000  रूपये का लाभ केवल उन महिलाओ को ही दिया जायेगा जो जननी सुरक्षा योजना की लाभार्थी है।

फॉर्म 1 डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

फॉर्म 2 डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

फॉर्म 3 डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

pradhan mantri matritva vandana yojana online registration

केन्द्रीय स्तर पर तैयार किए गए “उमंग” एप के माध्यम से प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सहित स्वास्थ्य की 11 सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। इस एप से आवेदन व पंजीकरण की प्रक्रिया में आसानी आ सकेगी। पहली बार माँ बनने वाली लाभार्थी इस एप के जरिये स्वतः ऑनलाइन पंजीकरण कर सकती हैं। इस तरह करे ऑनलाइन आवेदन 

स्टेप 1 –pradhan mantri matritva vandana yojana online registration

  • सबसे पहले आपको उमंग एप डाउनलोड करना है. 
  • उमंग एप ओपन करने के बाद आपको PMMVY लिखकर सर्च करना है. 

स्टेप 2 – pmmvy

  • Apply for Scheme पर क्लिक करे. 

स्टेप 3 – pmmvy

  • सबसे पहले आपको Self Registration पर क्लिक कर आपको रजिस्ट्रेशन करना है. 
  • इसके बाद Apply For Scheme पर क्लिक कर इस pmmvy के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है. 
  • इसके अलावा आप दूसरी और तीसरी क़िस्त के लिए भी आवेदन कर सकते है और लाभार्थी सूची भी देख सकते है. 

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana Helpline Number

हाल ही में प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना के लिए एक हेल्प नम्बर जारी कर दिया गया । इस हेल्प लाइन नं0 जिले की कोई भी गर्भवती महिला घर बैठे योजना के विषय में जानकारी ले सकती है। हेल्प लाइन नं0 पर फोन करने के दौरान कैसे खानपान व इलाज कराएं उसके विषय में भी विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाएगी। पंजीकरण के विषय में बताया जायेगा।

…ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिले लाभ
प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना में लाभार्थियों को अधिक से अधिक लाभ दिया जा सके। इसके लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार मिलकर लगातार प्रयास कर रही है। गर्भवती महिलाओं को किसी भी प्रकार की परेशानियों का सामना न करना पड़े इसके लिए जनपद में तैनात आशा व एएनएम के माध्यम से योजना का प्रचार-प्रसार किया जाता रहा है। लेकिन प्रचार-प्रसार होने के बावजूद भी कुछ महिलायें योजना से वंचित रह जाती हैं। इसको देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने प्रधानमंत्री मातृत्व वन्दना योजना के लिए हेल्प नम्बर जारी किया है। उन्होंने बताया कि हेल्प लाइन नं0 7998799804 पर कॉल कर गर्भवती महिलायें घर बैठे योजना के विषय में सारी जानकारी ले सकती हैं। साथ ही पंजीकरण, चिकित्सकीय सलाह और गर्भ के दौरान क्या-क्या सेवन करें उसके विषय में भी जानकारी मिलेगी।

एक नजर इस योजना से जुड़े ताज़ा अपडेट पर भी 

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ लेने में जालौन उत्तरप्रदेश में अव्वल

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (PMMVY) का लाभ लेने में जालौन ने फरवरी 2022 तक प्रदेश में पहला स्थान प्राप्त किया है। जी हां, जालौन में सबसे ज्यादा 41,353 लाभार्थियों ने इस योजना का लाभ उठाया है। टॉप फाइव में बुंदेलखंड के चित्रकूट को दूसरा और महोबा को चौथा स्थान मिला है। प्रदेश के बलरामपुर जिले को तीसरा और शामली को पांचवां स्थान प्राप्त हुआ है।

योजना का लाभ पहुंचाने के लिए विशेष पंजीकरण अभियान

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ लेने से वंचित चल रही देश भर की प्रसुताओं को परेशान होने की जरूरत नहीं है। योजना का लाभ देने के लिए पूरे देश भर में केंद्र सरकार की तरफ से विशेष पंजीकरण अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत आशा के माध्यम से एएनएम गर्भवती महिलाओं का फॉर्म भरकर सीएचसी को उपलब्ध कराने का काम करेंगी। जिसके बाद गर्भवती महिलाएं किश्तों में योजना की धनराशि ले सकती हैं। 

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को तीन किश्त में पांच हजार रूपये मिलने हैं। इसके लिए गर्भधारण का पता चलते ही संबंधित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर महिला को पंजीकरण कराना होता है। पंजीकरण के बाद पहला टीटी बैक का टीका लगते ही महिला के खाते में योजना के तहत एक हजार रुपये भेज दिया जाता है। गर्भ के छह माह बाद सभी जांच के बाद फार्म बी भरकर भेजने पर दूसरी किश्त दो हजार और प्रसव के बाद फार्म सी भरकर भेजने पर दो हजार रूपये महिला के खाते में पहुंच जाता है।

फॉर्म ए, बी व सी भरने की जिम्मेदारी संबंधित एएनएम की है। आशा के माध्यम से एएनएम गर्भवती महिलाओं का फार्म भरकर सीएचसी को उपलब्ध कराती हैं। लेकिन अधिकांश गर्भवती महिलाओं का समय से फार्म ए, बी व सी नहीं भरा जा रहा है। प्रसव के बाद तीनों फार्म भरकर एकसाथ भेजा जा रहा है। इससे कई महिलाओं को योजना का लाभ नहीं मिला है। महिलाओं को इस समस्या से समाधान के लिए केंद्र सरकार ने विशेष पंजीकरण अभियान शुरू किया है। इस अभियान में गर्भवती महिलाएं पंजीकरण कराएगी। पंजीकरण के तुरंत बाद मौके पर ही फार्म 1 भरकर भेज दिया जाएगा। वही संबंधित आशा संगिनी को निर्देशित किया गया है कि अपने क्षेत्र में सभी आशाओं से सर्वे कराकर शत प्रतिशत लाभ दिलवाने का कार्य करें।

FAQ

मातृ वंदना योजना से क्या लाभ है?

इस योजना के तहत मिलने वाली राशि का इस्तेमाल करके गर्भवती महिला अपने खान-पीन में पोषक तत्वों को शामिल करके अपनी सेहत का और बच्चे की सेहत का भरपूर ध्यान रख पाएगी.

गर्भावस्था सहायता योजना क्या है?

भारत में अधिकांश महिलाओ को आर्थिक तंगी के कारण पोष्टिक आहार नहीं मिल पाता है जिसकी वजह से ऐसी गर्भवती महिला कम वज़न वाले और कमजोर शिशु को ही जन्म देती है. केंद्र सरकार ने ऐसी ही गर्भवती महिलाओ को ध्यान में रखते हुए 1 जनवरी 2017 को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना (Pradhan Mantri Matritva Yojana) कि शुरुआत की. जिसके तहत केंद्र सरकार गर्भवती महिलाओ को 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी.

गर्भवती महिला का फॉर्म कैसे भरें?

फॉर्म हिंदी या इंग्लिश में डाउनलोड करने का लिंक इस आर्टिकल में दिया गया है जिसे आप डाउनलोड कर आसानी से भर सकते है और फिर उस फॉर्म फॉर्म को अपने निकटतम आंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर जमा कर सकते है.

मातृ वंदना योजना कितने पैसे मिलते हैं?

स्वस्थ जच्चा-बच्चा के लिए केंद्र सरकर ने प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना संचालित की है। इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को तीन किश्त में पांच हजार रूपये मिलते हैं। इसके लिए गर्भधारण का पता चलते ही संबंधित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर महिला को पंजीकरण कराना होता है। पंजीकरण के बाद पहला टीटी बैक का टीका लगते ही महिला के खाते में योजना के तहत एक हजार रुपये भेज दिया जाता है। गर्भ के छह माह बाद सभी जांच के बाद फार्म बी भरकर भेजने पर दूसरी किश्त दो हजार और प्रसव के बाद फार्म सी भरकर भेजने पर दो हजार रूपये महिला के खाते में पहुंच जाता है।

Leave a Comment