Rajasthan Tarbandi Yojana 2022: पात्रता, दस्तावेज व ऑनलाइन आवेदन

tarbandi yojana rajasthan form pdf 2022 | तारबंदी योजना हेतु आवेदन फॉर्म 2022 | बाड़ा योजना rajasthan | राजस्थान तारबंदी योजना 2022 ऑनलाइन फॉर्म         

rajasthan tarbandi yojana

Rajasthan Tarbandi Yojana 2022: राजस्थान की गहलोत सरकार ने हाल ही में राज्य के किसानो के लिए तारबंदी योजना की शुरुआत की है. आज के इस लेख में हम आपको Rajasthan Tarbandi Scheme से जुड़ी सारी जानकारी मुहैया कराएंगे जैसे इस योजना को लागू करने का क्या उद्देश्य है, इस योजना के क्या लाभ हैं, इस योजना का लाभ लेने के लिए कौन-कौन पात्र है, इस योजना के लिए आवेदन कैसे करना है आदि! इसलिए आप इस आर्टिकल को अंत तक ज़रूर पढ़े.

ये भी पढ़े – 

Rajasthan Tarbandi Yojana 2022 

भारत एक कृषि प्रधान देश है. जिसकी बड़ी आबादी कृषि पर ही निर्भर है. कुल मिलाकर देश की बहुसंख्यक किसानों की आजीविका का मुख्य स्त्रोत कृषि ही है, लेकिन किसानों को खेत में बुवाई से लेकर कटाई तक कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. जिसमें आवारा पशुओं से खेत व फसल को होने वाला नुकसान भी शामिल है.

ऐसे में किसान आवारा पशुओं से खेत को बचाने के लिए अपने तरह से कई प्रयास करते हैं, लेकिन इन प्रयासों के बावजूद भी छुट्टा पशु किसानों के खेत व फसलों को नुकसान पहुंचा ही देते हैं. इस बात को ध्यान में रखते हुए राजस्थान की गहलोत सरकार ने तारबंदी योजना की शुरूआत की है. तारबंदी योजना के अंतर्गत 400  मीटर की तारबंदी का 50% खर्चा सरकार द्वारा दिया जाएगा। बाकी का 50% योगदान किसान का होगा अथवा अधिकतम राशि ₹48000 / – जो भी कम हो अनुदान देय होगा.

400 मीटर से कम लंबाई की तारबंदी पर प्रोरेटा बेसिस पर गणना कर आर्थिक मदद दी जाएगी. किसानों को यह अनुदान राजस्थान फसल सुरक्षा मिशन के तहत दिया जाएगा. यह राशि सीधे किसान के बैंक खाते में जमा की जाएगी. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान फसल सुरक्षा योजना के तहत अगले 2 वर्ष में 1.25 करोड़ मीटर तारबंदी के लिए किसानों को 125 करोड़ रुपये की सब्सिडी देने की मंजूरी दे दी है. राजस्थान सरकार ने तारबंदी योजना के लाभ उठाने के लिए किसानों से 30 मई से आवेदन मांगे हैं. 

राजस्थान सरकार तारबंदी योजना के तहत किसानों को 400 मीटर की तारबंदी तक के लिए ही आर्थिक मदद देगी. अगर किसी किसान के पास 400 मीटर से अधिक की जमीन है, तो किसान को बची हुई जमीन की तारबंदी अपने खर्च पर करनी होगी. 

Rajasthan Tarbandi Yojana के लाभ

  • इस योजना के तहत तारबंदी हेतु किसान को अधिकतम 400 मीटर की सीमा तक लागत का 50% या 48 हजार रुपये दिए जाएंगे. इसमें भी वहींं राशि किसानों को देय होगी, जो कम हो.
  • बहुत से ऐसे किसान हैं जिनके खेतों में तारबंदी ना होने के कारण वह जो भी फसल खेतों में लगाते हैं तो उनकी फसल का आवारा पशुओं के द्वारा या अन्य जानवरों के द्वारा नुकसान हो जाता है। जिसके चलते किसान हताश हो जाते है और वह खेती-बाड़ी में रूचि नहीं रखते हैं ऐसा ना हो इसीलिए राजस्थान सरकार ने तारबंदी योजना का आरंभ किया है।  इस नई योजना की सहायता से किसान अपने खेतो मे बाड़ बना कर या फिर तारबंदी करके अपने खेतो को नीलगाय व आवारा पशुओ से बचा पाएगे और फसल की बर्बादी को रोका जा सकेगा।

ध्यान रहे – 

  • इस मिशन के अंतर्गत निर्मित तारबंदी में किसी प्रकार का विद्युत करंट प्रवाहित नहीं किया जाएगा, ताकि जनधन / पशुधन को होने वाली हानि से बचाया जा सके.
  • कृषि विभाग द्वारा अनुदान दिए जाने के बाद तारबंदी का रखरखाव व मरम्मत कार्य की समस्त जिम्मेदारी स्वयं किसान की होगी. 

राजस्थान तारबंदी योजना का उद्देश्य 

राजस्थान तारबंदी योजना का मुख्य उद्देश्य किसान की फसलों को नुकसान से बचाना क्योंकि तारबंदी होने के कारण किसान की फसलें नीलगाय व आवारा पशुओं के आतंक से मुक्त रहेंगी. जिससे किसान की फसल को कोई नुकसान नहीं होगा और पैदावार भी अच्छी होगी और उसकी फसल के अच्छे दाम भी मिलेंगे. किसान भी खुशहाल होगा अगर किसान खुशहाल होगा तो हमारा मुल्क भी खुशहाल होगा क्योंकि आप जानते हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है जिसकी बड़ी आबादी अपने जीवन यापन के लिए कृषि पर ही निर्भर है.

राजस्थान तारबंदी योजना 2022 के लिए पात्रता

  • आवेदक राजस्थान का निवासी हो.
  • आवेदक के पास न्यूनतम आधा हेक्टेयर जमीन कृषि योग्य होनी चाहिए.
  • सह खातेदारों की स्थिति में भी न्यूनतम आधा हेक्टेयर ज़मीन आवेदक के हिस्से में आनी चाहिए.
  • अगर किसान के पास स्वयं के नाम से कृषि योग्य ज़मीन नहीं है लेकिन उसके पिता के पास है तो पिता के जीवित होने या मृत्यु के बाद किसान स्वयं के पक्ष में भू स्वामित्व में नेशनल शेयर धारक का प्रमाण पत्र राजस्व / हल्का पटवारी से प्राप्त कर आवेदन के साथ प्रस्तुत करता है तो ऐसे किसान को भी योजना का लाभ दिया जाएगा.
  • तारबंदी योजना का लाभ किसी भी ट्रस्ट / सोसाइटी / स्कूल / कॉलेज / मंदिर / धार्मिक संस्थान आदि को नहीं दिया जाएगा. 

Rajasthan Tarbandi Yojana के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमाबंदी की नकल (6 माह से अधिक पुरानी ना हो)
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Rajasthan Tarbandi Yojana के मुख्य बिंदु

योजना का नाम राजस्थान तारबंदी योजना
योजना की शुरुआत कब हुई वर्ष 2017 में
किसने आरंभ की राजस्थान सरकार ने
किस मंत्रालय द्वारा संचालित की जा रही है कृषि विभाग राजस्थान
योजना का लाभ

राज्य के किसानो को 400 मीटर तक की तारबंदी के लागत का 50% खर्चा अथवा अधिकतम 48,000 रूपये की धनराशी जो भी कम हो देय होगी. 

योजना का उद्देश्य
  • कांटेदार तारबंदी करके किसान की फसलो को नील गाय व आवारा पशुओं के आतंक बचाना. 
योजना के लिए पात्रता
  • आवेदक राजस्थान का निवासी होना चाहिए.
  • आवेदक के पास न्यूनतम आधा हेक्टेयर ज़मीन कृषि योग्य होनी चाहिए.
योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमाबंदी की नकल (6 माह से अधिक पुरानी ना हो)
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
योजना के लिए आवेदन 30 मई से जारी
आवेदन करने की अंतिम तिथी अभी तक घोषित नहीं हुई है
ऑफिशियल वेबसाइट agriculture.rajasthan.gov.in

राजस्थान तारबंदी योजना के लिए आवेदन कैसे करे? (Rajasthan Tarbandi Yojana Online Form 2022)

कियोस्क के माध्यम से आवेदन करने पर 

  • सबसे पहले आपको आवेदन फॉर्म डाउनलोड करना है.

आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

  • आवेदन फॉर्म को भरने के बाद और जरूरी दस्तावेजों के साथ अपने नजदीकी सीएससी सेंटर / सेवा केंद्र / ई मित्र केंद्र पर जाकर जमा कर दें.
  • कियोस्ककर्ता आवेदन फॉर्म को ऑनलाइन ई-प्रपत्र (e-Form) में भरेगा और आवश्यक दस्तावेज को स्कैन कर अपलोड करेगा.
  • फॉर्म भरने के बाद कियोस्ककर्ता आवेदक को ऑनलाइन निकाल कर आवेदन पत्र की रसीद देगा.
  • मूल दस्तावेजों को कियोस्ककर्ता / लोकल सर्विस प्रोवाइडर के माध्यम से महीने में दो बार नजदीकी कृषि  विभाग के कार्यालय में भिजवाया जाएगा. जिसकी रसीद विभाग के कार्यालय से संबंधित अधिकारी / कर्मचारी द्वारा दी जाएगी.
  • यदि कियोस्ककर्ता फॉर्म भरने से 30 दिन के भीतर कृषि विभाग के कार्यालय में मूल दस्तावेजों को जमा नहीं करता है तो आवेदक का आवेदन निरस्त माना जाएगा. 
  • इस तरह आपका आवेदन पूर्ण हो जाएगा.
  • संबंधित कृषि विभाग आपका आवेदन प्राप्त होने पर 15 दिन के भीतर आपके आवेदन की समीक्षा करेगा.
  • आवेदन की स्थिति (status) यानी आप इस योजना के पात्र हो या नहीं आवेदक को ऑनलाइन या एसएमएस द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी. 
  • तारबंदी के भौतिक सत्यापन के बाद किसान को अनुदान राशि का एकमुश्त भुगतान किसान के बैंक खाते में सीधा हस्तांतरित किया जाएगा.

आवेदक द्वारा स्वयं ऑनलाइन आवेदन किये जाने पर

  • स्वयं आवेदन करने के लिए आपके पास ई-मित्र आईडी होनी चाहिए. 
  • अब आपको आवेदन फॉर्म डाउनलोड करना है.

आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें

  • इसके बाद आपको ई-मित्र आईडी को लॉगिन करना है. 
  • लॉगिन करने के बाद आवेदक मूल आवेदन पत्र को ऑनलाइन ई-प्रपत्र (e-Form) में भरेगा एवं आवश्यक दस्तावेज को स्कैन कर अपलोड करेगा. 
  • आवेदक आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा किए जाने की प्राप्ति रसीद ऑनलाइन ही प्राप्त कर सकेगा.
  • आवेदक मूल दस्तावेजों को स्वयं अथवा डाक के माध्यम से संबंधित कृषि विभाग के कार्यालय में भिजवायेगा जिसकी प्राप्ति रसीद विभाग के कार्यालय से संबंधित अधिकारी या कर्मचारी द्वारा दी जाएगी.
  • यदि आवेदक फॉर्म भरने से 30 दिन के भीतर कृषि विभाग के कार्यालय में मूल दस्तावेजों को जमा नहीं करता है तो आवेदक आवेदन निरस्त माना जाएगा. 
  • संबंधित कृषि विभाग आपका आवेदन प्राप्त होने पर 15 दिन के भीतर आपके आवेदन की समीक्षा करेगा.
  • आवेदन की स्थिति (status) यानी आप इस योजना के पात्र हो या नहीं आवेदक को ऑनलाइन या एसएमएस द्वारा उपलब्ध कराई जाएगी. 
  • तारबंदी के भौतिक सत्यापन के बाद किसान को अनुदान राशि का एकमुश्त भुगतान किसान के बैंक खाते में सीधा हस्तांतरित किया जाएगा.

ये भी पढ़े – 

Rajasthan Tarbandi Yojana Helpline Number / Toll Free Number

राजस्थान राज्य के किसी भी किसान को इस योजना का लाभ लेने में किसी समस्या का सामना न करना पड़े या फिर किसान को इस योजना से सम्बन्धित कोई भी जानकारी पूछने के लिए परेशान न होना पड़े इसके लिए राजस्थान सरकार की तरफ से इसके हेल्पलाइन नंबर भी जारी किये गये है जो इस प्रकार है :-

Contact Number : 01412927047 : 9414287733 : 18001801551
E-Mail : [email protected]
Address : -कक्ष संख्या 238, पंत कृषि भवन, सी-स्कीम, जयपुर – 302 005

FAQ

राजस्थान तारबंदी योजना का फॉर्म कैसे भरें?

सबसे पहले आपको आवेदन फॉर्म डाउनलोड करना है और उसे भरना है और संबंधित दस्तावेजों के साथ अपने नजदीकी कियोस्क सेंटर / सेवा केंद्र पर जाना है. जिसके बाद कियोस्ककर्ता आपके आवेदन को ऑनलाइन फिल करेगा और संबंधित दस्तावेज नजदीकी कृषि विभाग में जमा करायेगा. आवेदन फॉर्म डाउनलोड करने का लिंक किस आर्टिकल में दिया गया है और आवेदन करने का तरीका भी पूर्ण रूप से बताया गया है.

राजस्थान में अनुदान का पैसा कब आएगा?

राजस्थान तारबंदी योजना के तहत आवेदन 30 मई से शुरू हो चुके हैं. इसलिए पहले आप आवेदन करें. आपके आवेदन करने के बाद संबंधित कृषि विभाग आपके आवेदन की समीक्षा करेगा और आपका आवेदन सही पाए जाने पर एक मुश्त राशि आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी.

तारबंदी योजना के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

राजस्थान तारबंदी योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए आपके पास आधार कार्ड, राशन कार्ड, पहचान पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जमाबंदी की नकल (6 माह से पुरानी ना हो), मोबाइल नंबर आदि होने चाहिए.

Leave a Comment