Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana 2022: सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना पंजीकरण 

Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana Jharkhand 2022 | सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना झारखंड आवेदन फॉर्म | Savitri bai Phule Kishori Samridhi Yojana Registration | Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana form pdf | मुख्यमंत्री सुकन्या योजना झारखण्ड Form | mukhyamantri sukanya jharkhand gov in

Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana

आज हम आपको ऐसी योजना के बारे में बताने रहे हैं जिसे खासतौर से बेटियों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है. बेटियों के प्रति नाकारत्मक सोच के कारण वे हमेशा से स्वास्थ्य, शिक्षा जैसी मौलिका अधिकारों से वंचित रह जाती हैं. इस समस्या को खत्म करने के लिए झारखंड की हेमंत सरकार सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना लेकर आई है. इस योजना के तहत बेटियों को राज्य सरकार की तरफ से 40,000 रुपये की बतौर आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी. 

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana से जुड़ी सारी जानकारी मुहैया कराएंगे. जैसे इस योजना के तहत मिलने वाली राशि किस प्रकार मुहैया कराई जाएगी, इस योजना को लागू करने के क्या उद्देश्य है, इस योजना का लाभ हासिल करने के लिए कौन-कौन पात्र है, इस योजना के लिए आवेदन कैसे करना है आदि. 

Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana 2022

झारखंड में लड़कियों के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए सीएम हेमंत सोरेन ने 21 अगस्त 2019 को सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि स्कीम का शुभारंभ किया था. पहले इस योजना का नाम मुख्यमंत्री सुकन्या योजना (Mukhyamantri Sukanya Yojana) था. 5 सितम्बर 2022 को झारखंड सरकार ने इस योजना का नाम बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना रख दिया. झारखंड सरकार ने इस योजना के क्रियान्वयन की ज़िम्मेदारी महिला, बाल विकास व सामाजिक सुरक्षा विभाग को सौंपी है. इस योजना के तहत राज्य की बालिकाओ को 40,000 रूपये की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी.  बालिका शिक्षा व महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने, बाल विवाह रोकने व किशोरियों को मुख्यधारा में लाने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है। 

किस तरह मिलेंगे 40,000 रुपये

आपको बताते हैं किस प्रकार प्रदेश सरकार बेटियों को 40,000 रुपये देती हैं. छह श्रेणियों में विभाजित कर पैसे इस प्रकार दिए जाते हैं. 

  • कक्षा 8 में प्रवेश करने पर छात्रा को 25,00 रूपये की राशि दी जाएगी.
  • कक्षा 9 में दाखिला लेने पर छात्रा को 25,00 रूपये की राशि दी जाएगी. 
  • कक्षा 10 में दाखिला लेने पर बालिका को 5,000 रूपये की राशि दी जाएगी. 
  • कक्षा 11 में दाखिला लेने पर बालिका को 5,000 रूपये की राशि दी जाएगी. 
  • कक्षा 12 में प्रवेश करने पर छात्रा को 5,000 रूपये की राशि दी जाएगी. 
  • 18 से 19 वर्ष की बालिका को 20,000 रूपये की एकमुश्त राशि प्रदान की जाएगी. 

इस योजना के लागू होने से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा और राज्य में बालिकाओ की साक्षरता दर में भी काफी सुधार होगा. इसके अलावा झारखंड सरकार इस योजना के ज़रिये राज्य में बाल विवाह प्रथा का अंत भी करना चाहती है. योजना का लाभ केवल झारखंड-वासियों को ही दिया जायेगा और जो आर्थिक रुप से कमज़ोर परिवार है. इसके अलावा योजना का लाभ माता की दो पुत्रियों को ही मिलेगा, जिसके लिए बालिका का जन्म प्रमाण-पत्र सहित अन्य दस्तावेज के साथ आंगनबाड़ी सेविका के माध्यम से आवेदन के समय प्रस्तुत करना होगा। योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में हस्तांतरित की जाएगी. ध्यान रहे बालिका का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना अनिवार्य है. 

आपको जानकर ख़ुशी होगी की प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाली सभी किशोरियों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा. इसके अलावा ड्रॉपआउट किशोरियों को स्कूल व कॉलेज से जोड़ने की विशेष पहल की जाएगी. योजना में मिलने वाली राशि छात्रवृत्ति के अतिरिक्त होगी.

ये भी पढ़े – 

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लाभ एवं विशेषताएं 

  • बालिकाओ की स्थिति में सुधार लाने के लिए झारखण्ड सरकार ने 21 अगस्त 2019 को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना का शुभारंभ किया था.
  • बाद में 5 सितम्बर 2022 को इसका नाम बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना रख दिया. 
  • Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana के तहत लाभार्थी को 40,000 रूपये की आर्थिक सहायता छः श्रेणियों में मुहैया कराई जाती है. जो इस प्रकार है:-
लाभार्थी  लाभ की राशि
कक्षा 8 में नामांकित बालिका 2500 रूपये
कक्षा 9 में नामांकित बालिका 2500 रूपये
कक्षा 10 में नामांकित बालिका 5000 रूपये
कक्षा 11 में नामांकित बालिका 5000 रूपये
कक्षा 12 में नामांकित बालिका 5000 रूपये
18 – 19 वर्ष की आयु की बालिका को एकमुश्त अनुदान 20,000 रूपये
  • लाभ के तौर पर मिलने वाली राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी. 
  • इस योजना के लागू होने से ऐसी बालिकाओ की संख्या में कमी आयेगी, जो आर्थिक स्थिति कमज़ोर होने की वजह से अपनी पढाई बीच में ही छोड़ देती थी. 
  • इसके अलावा राज्य में बाल विवाह के मामलो में भी कमी आएगी. 
  • महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा.
  • इस योजना का लाभ माता की दो पुत्रियों को ही दिया जायेगा.  
  • बालिका की 19 वर्ष की उम्र पूरी होने से पहले ही योजना के लिए आवेदन करना होगा. तभी आवेदक को इस योजना का लाभ दिया जायेगा.  
  • प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाली सभी किशोरियों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा.
  • योजना के तहत मिलने वाली राशि छात्रवृत्ति के अतिरिक्त होगी.

Savitribai Phule Kishori Samridhi Scheme का उद्देश्य 

झारखंड राज्य में बालिकाओ के लिए सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना लागू करने के निम्न उद्देश्य है:-

  • महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना
  • बालिका शिक्षा पर जोर 
  • बाल विवाह प्रथा का अंत करना
  • उच्चतर कक्षाओ में प्रवेश पर बालिकाओ को आर्थिक सहायता मुहैया कराकर, पढ़ाई को बीच में छोड़ने की प्रवृति को कम करना और उन्हें उच्च शिक्षा हेतु प्रोत्साहित करना
  • किशोरियों को अपने जीवन के संबंध में स्वतंत्र निर्णय लेने हेतु सक्षम बनाना

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लिए कौन-कौन पात्र है

  • आवेदक बालिका झारखंड की निवासी होनी चाहिए.
  • आर्थिक रुप से कमज़ोर परिवार की कन्याएं ही इस योजना के तहत आवेदन करने की पात्र हैं.
  • साथ ही अंत्योदय कार्डधारक परिवारों की कन्याए भी इस योजना के तहत आवेदन करने की पात्र हैं.
  • सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ माता की दो पुत्रियों को ही दिया जायेगा. 
  • लाभार्थी कन्या का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए.
  • लाभार्थी द्वारा 19 वर्ष की आयु पूरी होने से पहले ही इस योजना के तहत आवेदन करना अनिवार्य होगा. 

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लिए कौन-कौन पात्र  नहीं है

  • केंद्र सरकार / राज्य सरकार / केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों / राज्य सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के कर्मचारी  
  • राज्यसभा / लोकसभा / विधानसभा के पूर्व एवं वर्तमान सदस्य. 
  • राज्य सरकार के पूर्व या वर्तमान मंत्री.
  • नगर निकायों / ज़िला परिषद के वर्तमान अध्यक्ष.
  • केंद्र या राज्य, विभाग एवं इनके क्षेत्रीय इकाई / राज्य सरकार के मंत्रालय / PSE एवं संबंध कार्यालय, सरकार के अधीन स्वायत्त संस्थाओ के कार्यरत या सेवानिवृत्त पदाधिकारी एवं कर्मी.
  • आयकरदाता.
  • पेशेवर डॉक्टर / इंजिनियर / वकील / चार्टर्ड अकाउंटेंट / आर्किटेक्ट. 
  • मोटर चलित दोपहिया / तिपहिया / चार पहियों वाहन धारक परिवार
  • कृषि उद्योग वाले परिवार
  • भूमि धारक परिवार

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना हेतु ज़रूरी दस्तावेज़ 

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • बालिका का बैंक में / पोस्ट ऑफिस में खाता
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • पहचान पत्र (18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर लाभार्थी द्वारा आवेदन के समय स्वंय का मतदाता पहचान पत्र अपने आवेदन के साथ संलग्न करना अनिवार्य होगा)

Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana के मुख्य बिंदु

योजना का नाम सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना
किसने आरंभ की झारखंड सरकार ने
योजना की शुरुआत कब हुई 21 अगस्त 2019
किस मंत्रालय द्वारा संचालित की जा रही है महिला, बाल विकास व सामाजिक सुरक्षा विभाग
लाभार्थी

राज्य की बालिकाएं

लाभ के रुप में क्या दिया जायेगा

योजना के तहत कक्षा आठ में नामांकन में बच्ची के नाम 2500 रुपये, कक्षा 9 में नामांकन में 2500 रुपये, कक्षा 10 में नामांकन में 5000 रुपये, कक्षा 11 में नामांकन में 5000 रुपये, कक्षा 12 में नामांकन में 5000 रुपये जमा किए जाएंगे. वहीं लड़की की 18-19 वर्ष की आयु पूरी होने पर एक मुश्त राशि 20,000 रुपये अनुदान के रूप में दिया जाएगा.

योजना का मुख्य उद्देश्य

किशोरियों को शिक्षा हासिल करने में और वयस्क होने पर शादी के लिए जरूरी सहायता मुहैया हो सके

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के लिए आवेदन कैसे करे?

  • आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र पर जाकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा. 

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना या सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना फॉर्म डाउनलोड करने के लिए क्लिक करे

  • आवेदन फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरे और सम्बंधित दस्तावेज़ों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच करे. 
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म को या तो खुद या आंगनबाड़ी सेविका के माध्यम से बाल विकास परियोजना पदाधिकारी कार्यालय में जमा करा दे. 
  • इस प्रकार आपका सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना के अंतर्गत आवेदन पूर्ण होगा. 
  • बाल विकास परियोजना कार्यालय द्वारा प्राप्त आवेदन पत्र के आधार पर आवेदक का भौतिक सत्यापन कराया जायेगा. 
  • सभी जानकारी सही पाए जाने पर बाल विकास परियोजना कार्यालय द्वारा आवेदन पत्र को सम्बंधित जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को उपलब्ध कराया जायेगा. 
  • जिला समाज कल्याण पदाधिकारी द्वारा आवेदन पत्र को स्वीकृति प्रदान करने पर राशि लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी. 

ये भी पढ़े – 

FAQ

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना क्या हैं?

आपकी जानकारी के लिए बता दे की पहले इस योजना को मुख्यमंत्री सुकन्या योजना (Mukhyamantri Sukanya Yojana) के नाम जाना जाता था लेकिन बाद में झारखंड सरकार ने इस योजना का नाम बदलकर सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना रख दिया. इस योजना के तहत आर्थिक रुप से कमज़ोर परिवार की बालिकाओ को राज्य सरकार की तरफ से 40,000 रूपये की राशि प्रदान की जाती है.

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ परिवार की कितनी बेटियों को दिया जायेगा?

सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना का लाभ माता की दो पुत्रियों को ही दिया जायेगा. इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आपको अपने नज़दीकी आंगनबाड़ी केंद्र में संपर्क करना होगा.

1 thought on “Savitribai Phule Kishori Samridhi Yojana 2022: सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना पंजीकरण ”

  1. Agar mera 2002 9 June ka birth certificate h to mujhe iss yojna ka laabh nhi milega or mujhe aage ki padhai krni h uske liye kya kre

    Reply

Leave a Comment